Saturday, 23 November 2019

पाठ 1 प्रार्थना

1 comments
पाठ 1
प्रार्थना



हे  ईश्वर,हे भगवान,
हम सब बच्चे हैं नादान
तुम ही हो माता_ पिता हमारे,
भाई बंधु सखा हमारे

                             
करें सभी से प्रेम सदा हम,
                                
करेंसभी के दुख दूर हम
                                 
सबका भला हमेशा चाहे
                                   
मिटा सके दुखियों की आहे

माता पिता की आज्ञा  माने,
गुरु का आदर  करना जाने
देश प्रेम पर बली बली   जाएं,
दीन दुखी को सदा बचाएं

आगे कदम बढ़ाते जाएं,
कभी ना पीछे हटने पाए
करें किसी से नहीं लड़ाई
करें किसी की नहीं बुराई

पढ़े-लिखे हम खेले खाएं,
भारत देश की शान बढ़ाएं
इसका  मान घटने पाए
चाहे प्राण भले ही जाएं

पहले    चारों और हरियाली,
सबके घर में हो खुशहाली
देश हमारा बढ़ता जाए,
होकर बड़े   की रीत हम  पाएं




प्रार्थना

3.  निम्नलिखित प्रश्नों के उत्तर एक वाक्य में लिखिए:-


( बच्चों ने भगवान से कौन-कौन से संबंध जोड़े हैं?
1. उत्तरबच्चों ने भगवान से  माता- पिता, भाई- बंदू सखा आदि के संबंध  जोड़ें हैंl


(बच्चे किनकी आहे मिटाना चाहते हैं?
2. उत्तर: बच्चे दुखियों की आहे मिटाना चाहते हैंl


(बच्चे कौन से अच्छे गुण अपने भीतर विकसित करना चाहते हैं?
3. उत्तरबच्चे माता-पिता की आज्ञा मानना, गुरु का आदर करना, देश प्रेम पर बल-बल जाना आदि के अच्छे गुण अपने भीतर विकसित करना चाहते हैंl

( बच्चे पढ़ -लिखकर किस की शान बढ़ाना चाहते हैं?
4. उत्तरबच्चे पढ़ लिखकर अपने भारत देश की शान बढ़ाना चाहते हैंl

( ड़बच्चे देश के कैसे  भविष्य की कामना करते हैं?
देश का उज्जवल भविष्य चाहते हैं वह कहते हैं कि हमारे देश में चारों और हरियाली होl


4.  निम्नलिखित प्रश्नों के उत्तर तीन या चार वाक्य में लिखें:-

( ) बच्चे दीन- दु:खियों की सहायता कैसे करते हैं?
1. उत्तरबच्चे दीन दुखियों की सहायता उनके दुख दूर करके करना चाहते हैंl वे चाहते हैं कि सभी हमेशा खुश रहेl

( ) देश प्रेम पर बली बली  जाएं ,से कवि का  क्या आशय है?
2. उत्तरदेश नेम से कवि का आशय हैl देश को सुरक्षित रखना कवि का उद्देश्य हैl

() होकर बड़े हम कीर्ति पाएं से बच्चों का क्या आशय है

3. उत्तरकवि का आशय है कि मैं हमेशा अच्छे और महान काम करें जिससे देश प्रगति करें और उन्हें कीति प्राप्त होl