Wednesday, 18 December 2019

19 प्रकृति का अभिशाप

0 comments

 19 प्रकृति का अभिशाप

1) निम्नलिखित प्रश्नों के उत्तर एक या दो वाक्य में दीजिए:

1. सूर्य देव को किस ग्रह की चिंता थी?

2. जलदेवी के अनुसार पृथ्वी के वातावरण को कौन विषाक्त बना रहा है?

3. पवन देव ने ऑक्सीजन कम होने का क्या कारण बताया?

4. वन देवी ने अपने घटने का क्या कारण बताया?

5. गंधकयुक्त औषधियों मनुष्य के स्वास्थ्य पर क्या प्रतिकूल प्रभाव डालती हैं?

6. ओजोन परत क्या है?

7. ओजोन की परत को कौन नष्ट कर रहा है पाठ के आधार पर उत्तर दीजिए?

8. प्रदूषण से मुक्ति दिलाने की बात किसने सूर्यदेव से की?


2) निम्नलिखित प्रश्नों के उत्तर तीन या चार पंक्तियों में दीजिए:

1. यदि वायुमंडल ना होता तो पृथ्वी का क्या हाल होता? पाठ के आधार पर उत्तर दीजिए|

2. वनदेवी ने हरी पत्तियों को 'ऑक्सीजन का कारखाना' क्यों कहा?

3. वनदेवी ने गुस्से में आकर रशिमदेवी को क्या कहा?

4. वन किस प्रकार हमारे लिए लाभकारी है?

5. रेडियोधर्मिता क्या है? मनुष्य पर उसका क्या प्रभाव पड़ता है?

6.  बुद्धिदेवी ने मानव रक्षा के लिए सूर्य देव को क्या भरोसा दिलाया?


3) निम्नलिखित प्रश्नों के उत्तर 6 या 7 पंक्तियों में दीजिए:

2. जल, वायु, और ध्वनि प्रदूषण हमारे लिए बहुत ही घातक है _ स्पष्ट कीजिए|

3. निम्नलिखित का आशय स्पष्ट कीजिए:

.  मैं हूं मानव का महाकाल, प्रगति का अभिशाप, औद्योगिक प्रगति का विष वृक्ष, मैं हूं मानव का अदृश्य शत्रु प्रदूषण दैत्य| समझे.... प्रदूषण दैत्य|

. आप लोग चिंता ना करें, मुझ पर भरोसा रखें| आदिमानव विनाशकारी अग्नि से भयभीत हो गया था| फिर उसने इसी अग्नि को अपने अधीन कर लिया और आज अग्नि मानव के लिए बड़ी देन है| मैं इस प्रदूषण  दैत्य को ही जड़ से समाप्त कर दूंगी | संसार में इसका उन्मूलन करना  परमावश्यक है|

No comments:

Post a Comment