Sunday, 1 December 2019

6 पांच मरजीवे

0 comments
6 ) पांच मरजीवे



1) निम्नलिखित प्रश्नों के उत्तर एक दो पंक्तियों में दीजिए:


1. कवि ने गुरु गोविंद सिंह के लिए किन किन विशेषणो का प्रयोग इस कविता में किया है?
1. गुरु गोविंद सिंह जी के लिए निम्नलिखित विशेषताओं का प्रयोग किया गया है:-
(1)  खालसा महामानव, (2) युग दृष्टा, (3) दशम नानक, (4)  गुरुवर,  (5) दशमेश आदि विशेषणो का प्रयोग किया गया है |

2. कविता में 'दशम नानक' किसे कहा गया है?
2. कविता में सिखों के दशम गुरु श्री गुरु गोविंद सिंह जी को दशम नानक कहा गया है|

3. 1699 ईस्वी में विशाल मेला कहां लगा था?
3. 1699 में विशाल मेला आनंदपुर साहिब में लगा था |

4.  'मरजीवा' शब्द का क्या अर्थ है?
4. इस प्रसंग में मरजीवा का अर्थ है 'जो मरने को तैयार हो' |

5.    अकाल पुरुष का फरमान क्या था?
5.  अकाल पुरुष का फरमान था कि धर्म को बचाने के लिए अन्याय के मुक्ति दिलाने के लिए तुरंत एक बलिदान की आवश्यकता है |

6.   पांचो मरजीवो के नाम लिखिए?
6. पांच मरजीवे हैं _
1. लाहौर का खत्री दयाराम   2.  हस्तिनापुर का जाट धर्म राय 3. द्वारिका का धोबी मोहकम चंद 4. बदरका साहिब चंद 5. पूरी का कहार हिम्मत राय |


7. जो व्यक्ति न्याय के लिए बलिदान देता है,धर्म की रक्षा के लिए शीश कटा लेता है ,उसे हम क्या कहकर पुकारते हैं?
7. जो व्यक्ति अन्याय से मुक्ति दिलाने के लिए धर्म की रक्षा के लिए अपना शीश कटा कर बलिदान देता है वही मरजीवा कहलाता है |

8. गुरु जी ने वीरों की क्या पहचान बताई?
8. गुरुजी ने शुभ आचरण के पद पर निर्भय होकर बलिदान देना   वीरों की पहचान बताई है |


9. 'धर्म अधर्म के संघर्ष की रात' का क्या अर्थ है?

9. धर्म की रक्षा और अधर्म अर्थात अन्याय से मुक्ति के उपाय सोचने की रात थी |