Thursday, 2 April 2020

पाठ-4 फूल और कांटा

0 comments

पाठ 4
फूल और  कांटा


3. 
इन प्रश्नों के उत्तर एक या दो वाक्यों में लिखें:

1. 
फूल और कांटा कहां जन्म लेते हैं?
उत्तर: 1.  फूल और कांटा एक ही पौधे पर जन्म लेते हैंl



2. 
कांटे  की क्या विशेषता होती है?
उत्तर: 2.  कांटा उंगलियों में चुभ कर उनमें शेद कर देता हैl तितलियों के पर काट देता है और भंवरा के शरीर को चीर देता हैl

3. 
फूल की क्या विशेषता होती है?
उत्तर: 3.  फूल तितली को अपनी गोद में बिठाकर प्यार देता हैl भंवरों को अनूठा रस पिलाता हैl निजी सुगंध और नीले रंग से लोगों के  मन को प्रसन्न करता हैl इसे देवता के आगे शीश पर भी चढ़ाया जाता हैl

4. 
फूल और कांटा किसका प्रतीक है?
उत्तर: 4.  फूल खुशी और प्रसन्नता का प्रतीक हैl जब कि  कांटा दु: का प्रतीक हैl फुल सबके मन को खुशी प्रदान करता हैl जबकि कांटा सबके मन को दुख और तकलीफ देता हैl

4. 
इन प्रश्नों के उत्तर चार या पांच वाक्यों में लिखें:

1. 
फूल और कांटे को कौन-कौन सी समान परिस्थितियां प्राप्त होती है?
उत्तर: 1.  फूल और कांटा दोनों एक ही पौधे पर जन्म लेते हैंl इन्हें एक ही पौधा पालता हैl रात में चांद भी समान रूप से दोनों पर प्रकाश डालता हैl वर्षा तथा हवाएं भी दोनों को समान रूप में प्राप्त होती हैl

2.  फूल और कांटे में  सवभागवत  क्या अंतर है?
उत्तर: 2.
1. 
फूल सुगंध और कांटा दुर्गंध देता हैl
2.  
गूगल सबको खुशी देता है और कांटा दुख देता हैl
3. 
फूल तितलियों को गोद में लेता है भंवरों को रसऔर लोगों के मन मोह लेता हैl जबकि कांटा लोगों की उंगलियों काट लेता हैतितलियों के पर काट देता है और भंवरों  के सांवले शरीर को चीर देता हैl
4. 
अपने अच्छे स्वभाव के कारण फूल देवताओं के शरीर पर शोभा प्राप्त करता है, जबकि अपने बुरे स्वभाव के कारण कांटा सब को बुरा लगता हैl

3. 
आपकी दृष्टि में कुलवान व्यक्ति महान/ बड़ा होता है या गुणवान अपने विचार लिखेंl

4. '
किस....बड़प्पन की कसरकाव्य पंक्ति की प्रसंग व्याख्या करेंl 
उत्तर:4. प्रसंगयह पंक्तियां हिंदी की पुस्तक 'आओ हिंदी सीखें में' कविता फूल और कांटा में से लिया गया है इनमें कवि ने मनुष्य के गुणों के बारे में बताया हैl

व्याख्या कवि कहता है कि मानव कितने भी बड़े फूल में जन्म क्यों ना ले लेl आपकी महानता/ बड़प्पन को ज्ञान केवल उसके गुणों से होता हैl उसके कुल से नहींl अर्थात किसी भी व्यक्ति की ऊंचे कुल में जन्म लेने कि महानता तब तक नहीं होती जब तक उसमें गुणों की कमी होती है