Monday, 25 May 2020

ठेले पर हिमालय

0 comments

ठेले पर हिमालय

1.  निम्नलिखित प्रश्नों के उत्तर एक जा दो पंक्तियों में दीजिए_



(1)  लेखक कौसानी क्यों गए थे?
1. उत्तर: लेखक कौसानी बर्फ को नजदीक से देखने के लिए गए थेl





(2)  बस पर सवार लेखक ने साथ साथ बहने वाली किस नदी का जिक्र किया है?
2. उत्तर:   कोसी नदी काl

(3)  कौसानी कहां बसा हुआ है?
3. उत्तरसोमेशवर की घाटी के उत्तर में ऊंची पर्वतमाला के बिल्कुल शिखर पर बसा हुआ हैl

(4)  लेखक और उनकी मित्रों की निराशा और थकावट किस के दर्शन से छूमंतर हो गई?
4. उत्तरहिम्मत सेल लेखक और उनके मित्रों की निराशा और थकावट छूमंतर हो गईl

(5)  लेखक और उनके मित्र कहां ठहरे थे?
5. उत्तरलेखक और उनके मित्र डाक बंगले में ठहरे थेl

(6)   दूसरे दिन घाटी से उतर कर लेखक और उनके मित्र कहां पहुंचे?
6. उत्तरदूसरे दिन घाटी से उतरकर लेखक और उनके मित्र बैजनाथ पहुंचेl

(7)  बैजनाथ में कौन सी नदी बहती है?
7. उत्तरबैजनाथ में गोमती नदी बहती हैl

2.  निम्नलिखित प्रश्नों के उत्तर तीन जा चार पंक्तियों में दीजिए_

(1)  लेखक को ऐसा क्यों लगा जैसे वे ठगे गए हैं?

1.
उत्तर: लेखक और उसके दोस्त पास से बर्फ देखने के लिए नैनीताल से कोसी तक बहुत ही कष्टपदयात्रा करके गएl कोसी से कौसानी तक का सफर अच्छा था पर जैसे ही वे कौसानी के बस स्टैंड पर उतरे तो उन्होंने देखा कि बिल्कुल उजड़ा सा गांव था जहां बर्फ का नामो निशान नहीं था तब लेखक को लगा कि वे ठगे गए हैंl


(2)  सबसे पहले बर्फ दिखाई देने का वर्णन लेखक ने कैसे किया है?
2. उत्तरकौसानी पहुंचकर जब लेखक उस  घाटी के  सौंदर्य का आनंद ले रहा था तो अचानक  उसे बादलों में कोई चीज देखी जो अटल थीl वह ना तो सफेद थी ना रूपहली और ना नीली पार तीनों का आभास देती हुई थी, लेखक ने सोचा कहीं यह बर्फ तो नहीं थी? उसे एहसास हुआ कि वह बर्फ ही तो थीl उसे बहुत अधिक प्रसन्नता हुईl

(3)   खानसामे ने सबको खुश किस्मत क्यों कहा?
3. उत्तरखानसामे ने सवा को खुशकिस्मत इसीलिए कहा कि उनके आते ही उन्हें बर्फ दिख गई उनसे पहले जोटूरिस्टर वहां आए थे, वे वहां एक हफ्ता पड़े रहे पर उन्हें बर्फ नहीं दिखीl

(4)  सूरज के डूबने पर सब गुमसुम क्यों हो गए थे?
4. उत्तरसूरज के डूबने पर सब चुपचाप, गुमसुम से हो गए मानो सबका सब कुछ छीन गया हो, या शायद सब कुछ मिल गया हो जिसे अंदर ही अंदर सहेजने में सब  आत्मलीन हो या अपने आप में डूब गए होl

(5)  लेखक ने बैजनाथ पहुंचकर हिमालय से किस रूप में भेट की?
5. उत्तर: लेखक  मीलो चलकर बैजनाथ पहुंचा, जहां  गोस्ती बहती हैl गोस्ती की उज्जवल जल राशि में हिमालय की बर्फीली चोटियां उसकी छाया में तैर रही थीl लेखक ने उसे जल में तैर रहे हिमालय से जी भर कर भेट कीl




3.  निम्नलिखित प्रश्नों के उत्तर 6_7 पंक्तियों में दीजिए_

(1)  कोसी से कौसानी तक में लेखक को किन-किन दृश्य ने आकर्षित किया?
1. उत्तरकोसी से बस चली तो रास्ते में सुड़ैल पत्थर पर किनारे के छोटे-छोटे सुंदर गांव और हरे मखमली खेत थेll छोटे-छोटे पहाड़ी डाकखाने,चाय की दुकानें और कभी कभी कोसी जा उसमें से गिरने वाले नदी नाले पर बने हुए पूल, कहीं-कहीं सड़क निर्जन चीड़ के जंगलों से  गुजरती थी हुई, उन सब दृश्य ने लेखक को आकर्षित कियाl

(2)  लेखक को ऐसा क्यों लगा कि वे किसी दूसरे ही लोक में चले आए हैं?
2. उत्तरघाटी के पार लेखक ने देखा कि यह पर्वत सम्राट हिमालय है बादलों ने उसे ढप रखा थाl उसका हिमालय का शिखर बादलों की खिड़की से झांक रहा था उसे एक क्षण के  हिम_ दर्शन उनके अंदर  जान भर दी और उसे ऐसा लगा कि वह किसी दूसरे लोक में चले आए होl

(3)  एक को ठेले पर हिमालय शीर्षक कैसे सुझ1?

उत्तरठेले पर हिमालय शीर्षक लेखक को बहुत आसानी से मिल गया lएक दिन वह अपने दोस्त के साथ पान की दुकान पर खड़ा था कि तभी ठेले पर बर्फ की   सिले लादे हुए  बर्फ वाला आयाl ठंडी ,चिकनी, चमकती बर्फ रही थी क्षण भर  उस बर्फ  को देखते रहे, उठती हुई भाप में  खोए और खोए _खोए से ही बोले यहीं बर्फ तो हिमालय की शोभा है तो और तत्काल शीर्षक मेरे मन को कौध गया _ठेले पर हिमालयl