Monday, 25 May 2020

श्री गुरु नानक देव जी

0 comments

श्री गुरु नानक देव जी

1.  निम्नलिखित प्रश्नों के उत्तर एक या दो पंक्तियों में दीजिए_



(1)  गुरु नानक देव जी का जन्म कब और कहां हुआ?
1.  उत्तरगुरु नानक देव जी का जन्म पाकिस्तान में स्थित जिला शेखुपुरा के तलवंडी (अब पाकिस्ताननामक गांव में जिसे अब ननकाना साहिब कहते हैं सन 1469 o में पूर्णिमा को हुआ l





(2)  गुरु नानक देव जी के माता और पिता का क्या नाम था?
2 उत्तर: गुरु नानक देव जी के पिता का नाम मेहता कालू तथा माता का नाम तृप्ता देवी थाl

(3)  गुरु नानक देव जी ने छोटी आयु में ही कौन-कौन सी भाषाओं का ज्ञान अर्जित कर लिया था?

3
उत्तर: गुरु नानक देव जी  छोटी आयु में पंजाबी, फारसी, हिंदी तथा संस्कृत भाषाओ ज्ञान प्राप्त कर लिया थाl
(4)  गुरु नानक देव जी को किस व्यक्ति ने दुनियावी तौर पर जीविकोपार्जन संबंधी कार्य में लगाने का प्रयास किया था?
4. उत्तरगुरु नानक देव जी के पिता मेहता कालू ने उन्हें दुनियावी तौर पर जीविकोपार्जन संबंधी कार्य में लगाने का प्रयास किया थाl
(5)  गुरु नानक देव जी को दुनियादारी में बांधने के लिए इनके पिताजी ने क्या किया?
5. उत्तरगुरु नानक देव जी को दुनियादारी में बांधने के लिए उनके पिता ने उनकी शादी कर दीl

(6)  गुरु नानक देव जी के कितनी संताने थी और उनके नाम क्या थे?
6. उत्तरगुरु नानक देव जी के दो पुत्र हुएl उनके नाम थे_लख्मीचंद और श्रीचंदl

(7)  इस्लामी देशों की यात्रा के दौरान आपने किस धर्म की शिक्षा दी?
7. उत्तरइस्लामी देशों में यात्राएं करते समय आपने  सांझ धर्म की शिक्षा दीl


(8)  'श्री गुरु ग्रंथ साहिब' में गुरु नानक देव जी के कुल कितने पद और श्लोक हैं?
8. उत्तरश्री गुरु ग्रंथ साहिब में गुरु नानक देव जी के नाम से 974 पद और श्लोक हैंl

(9)  श्री गुरु ग्रंथ साहिब में मुख्य कितने राग है?
9. उत्तर: श्री गुरु ग्रंथ में मुख्य 31 राग हैl

(10)  गुरु नानक देव जी के जीवन के अंतिम वर्ष कहां बीते?
10. उत्तर: गुरु नानक देव जी के  जीवन के  अंतिम वर्ष करतारपुर में बीतेl


2.  निम्नलिखित प्रश्नों के उत्तर तीन या चार पंक्तियों में दीजिए_
(11)  गुरु नानक देव जी के जन्म के संबंध में भाई गुरदास जी ने कौन सी  तूक लिखी?
1. उत्तरगुरु नानक देव जी के जन्म के संबंध में भाई गुरदास जी ने लिखा-
'
सुनी पुकार दातार प्रभु, गुरु नानक जगि माहि पठाया'l

 (12)  गुरु नानक देव जी पढ़ने के लिए किन किन के पास गए?
2. उत्तर: सात वर्ष  की आयु में गुरुजी को गांव की पाठशाला में पढ़ने के लिए भेजा गयाl आधुनिक इतिहासकारों के अनुसार एक मौलवी सैयद हुसैन तथा एक पंडित बृजनाथ ने गुरुजी को शिक्षा दी थीl इन्होंने छोटी आयु में ही पंजाबी, फारसी, हिंदी, संस्कृत का ज्ञान प्राप्त कर लिया थाl


(1) साधुओं मेरा कर गुरु नानक देव जी ने कौन-कौन से ज्ञान प्राप्त किए?
3. उत्तरगुरु नानक देव जी ने विभिन्न भाषाओं का ज्ञान तो प्राप्त किया, परंतु उसके पर्याप्त होने के कारण उन्होंने अन्य अनेक विषयों की ज्ञान प्राप्ति के लिए अनुभवी साधुओं से मेल बढ़ायाl इन साधुओं की संगत से आपको भारतीय- धर्म, संप्रदाय और भारतीय- धर्म ग्रंथों और शास्त्रों का ज्ञान प्राप्त हुआl

(2)  गुरु नानक देव जी ने यात्राओं के दौरान कौन-कौन से महत्वपूर्ण शहरों की यात्रा की?
4. उत्तरगुरु नानक देव जी ने अपनी यात्राओं के दौरान आसाम, मक्का मदीना, लंका, ताशकंद आदि की यात्रा कीl

(3)  जानकी देव जी ने तत्कालीन भारतीय जनता को किन बुराइयों से स्वतंत्र कराने का प्रयास किया?
5. उत्तरगुरु नानक देव जी ने उस समय के धार्मिक आडंबरो और संकीर्णताओं को दूर करने के लिए लोगों के सामने वास्तविक सत्य को प्रस्तुत किया और उन्हें इन बुराइयों से स्वतंत्र कराने का प्रयास कियाl

(4)  गुरु नानक देव जी की रचनाओं के नाम लिखें.?
6. उत्तरगुरु नानक देव जी की रचनाओं के नाम है- जपजी साहिब, असा दी वार, सिद्ध गोषिट, पट्टी, दकखनी ओंकार, पहरे तिथिबारहमाह, सुच्चजी- कुच्चजी, आरती आदिl

3.   निम्नलिखित प्रश्नों के उत्तर 6 या 7 पंक्तियों में दीजिए_

(1)  जिस समय गुरु नानक देव जी का जन्म हुआ उस समय भारतीय समाज की क्या स्थिति थी?
1. उत्तर: जिस समय नानक देव जी का जन्म हुआ उस समय-

(1) 
समाज में बहुत से कुसंस्कार फैले हुए थेl
(2)
राजनैतिक और धार्मिक  दशा बड़ी शोचनीय थीl
(3)
राजा शोषक थेl
(4)
समाज अनेक जातियों धर्मों और संप्रदायों में बटा हुआ थाl
(5)
धर्म के नाम पर पखंड, अंधविश्वास और कर्मकांड की प्रधानता थीl
(6)
समाज में ऊंच-नीच और छुआछूत का विश्व फैला हुआ थाl





(2)  गुरु नानक देव जी ने अपनी यात्राओं के दौरान कहां-कहां और किन-किन लोगों को क्या उपदेश  दिए?

2.
उत्तरगुरु नानक देव जी ने 1499 . में से लेकर 1522 . के समय में पूरब, पश्चिम, उत्तर  तथा दकखन चारों दिशाओं की यात्रा कीl इन यात्रा में गुरुजी ने क्रमश: आसाम, मक्का मदीना, लंका तथा ताशकंद तक की यात्रा कीl यात्रा के दौरान ही गुरुजी ने कई स्थानों पर उचित उपदेश द्वारा भटके हुए लोगों को सुरुचिपूर्ण मार्ग दर्शायाl हिमालय पर स्थित योगियों के केंद्रों में उन्हें सही धर्म सिखाया तथा योग्य सिद्धों को जनसेवा का उपदेश दियाl हिंदुस्तान में घूमते समय गुरुजी ने पीरों-फकीरों, सूफी- संतों को भी उचित मार्ग दिखायाl मौलवियों और मुसलमानों को भी ठीक मार्ग दिखायाl इस्लामी देशों में सांझ धर्म का उपदेश दियाl

(3)  गुरु नानक देव जी की वाणी की विशेषता अपने शब्दों में लिखिए
3. उत्तर: 1. गुरु नानक देव जी की  वाणी धार्मिक ग्रंथ गुरु ग्रंथ साहिब में  संकलित हैl
2.
इसमें कुल 974 पद और श्लोक हैl
3.
इसमें  विभिन्न विषयों की चर्चा की गई हैl
4. 
इसमें प्रमुख रूप से सृष्टि, जीव और ब्रह्म के संबंध में चर्चा हैl
5. 
अकाल पुरुष का रूप और स्थान, माया के बंधन काटने की प्रेरणा, निविरकार एवं शुद्ध मन से प्रभु का नाम जपने की आवश्यकता पर बल दिया गया है